Infosys Q3 Results: तीसरी तिमाही में Infosys का 13 फीसदी मुनाफा बढ़ा, मार्जिन में आई गिरावट

आईटी सेक्टर की सबसे बड़ी कंपनियों में शुमार इंफोसिस ने गुरुवार को दिसंबर 2022 को समाप्त तिमाही के नतीजे घोषित कर दिए. इंफोसिस ने दिसंबर तिमाही में सालाना आधार पर नेट प्रॉफिट 13 फीसदी हासिल किया है जो बढ़कर 6,586 करोड़ रुपये हो गया है. लेकिन, ऑपरेटिंग मार्जिन में सालाना आधार पर गिरावट दर्ज की है.

सॉफ्टवेयर दिग्गज कंपनी इंफोसिस ने गुरुवार शाम को बाजार बंद होने के बाद दिसंबर तिमाही के नतीजे घोषित करते हुए 13 फीसदी नेट प्रॉफिट हासिल करने का ऐलान किया. कंपनी के अनुसार तीसरी तिमाही में शुद्ध मुनाफा अब बढ़कर 6,586 करोड़ रुपये हो गया है, जो समान अवधि की तिमाही में बीते वर्ष 5,809 करोड़ रुपये था. वहीं, नेट मुनाफा सितंबर तिमाही के मुकाबले में 9 फीसदी अधिक है.

कंपनी के आंकड़ों के अनुसार कंसोलिडेटेड रेवेन्यू सालाना आधार पर 20.2 फीसदी बढ़ा है और 38,318 करोड़ रुपये हो गया है. इकनॉमिक टाइम्स के पोल में अनुमान लगाया गया था कंसोलिडेटेड रेवेन्यू 37,965 करोड़ रुपये रहेगा और नेट प्रॉफिट 6,550 करोड़ रुपये होने का अनुमान था, जो कि काफी करीब रहा है.

बेंगलुरु स्थित सॉफ्टवेयर दिग्गज Infosys के अनुसार FY23 के लिए अपने ऑपरेटिंग मार्जिन को 21-22 फीसदी पर बनाए रखा है. लेकिन सालाना आधार पर इसमें 2 फीसदी की गिरावट आई है, क्योंकि समान अवधि में बीते साल की तिमाही में ऑपरेटिंग मार्जिन 23.5 फीसदी था. इंडस्ट्री के लिए कमजोर रही तिमाही के बावजूद इंफोसिस ने तीसरी तिमाही में 3.3 बिलियन डॉलर के सौदे हासिल किए हैं. जो पिछली आठ तिमाहियों में सबसे ज्यादा रहा है.

इंफोसिस के सीईओ और एमडी सलिल पारेख ने कहा कि दिसंबर तिमाही में हमारी राजस्व वृद्धि मजबूत रहीं, जिसमें डिजिटल कारोबार और मुख्य सेवाएं दोनों बढ़ी रहीं, क्योंकि बड़े सौदों को हासिल करने में तेजी से यह दिखता है. उन्होंने कहा कि हम अपने ग्राहकों के लिए एक ट्रस्टेड ट्रांफॉर्मेशन और ऑपरेशनल पार्टनर के रूप में बाजार हिस्सेदारी हासिल करना जारी रखते हैं. वहीं, मुख्य वित्तीय अधिकारी नीलांजन रॉय ने कहा कि लागत अनुकूलन लाभों के कारण तीसरी तिमाही में ऑपरेशनल मार्जिन लचीला बना रहा, जो ऑपरेशनल मापदंडों में सीजनल कमजोरी के प्रभाव को दर्शाता करता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *