Paytm: आज फिर 5% से ज्यादा टूटा पेटीएम, लेकिन ब्रोकरेज ने बढ़ाया टारगेट, क्या यही है एंट्री का सही समय? – Paytm share price decline of more than 5 percent but Brokerage raised target price


Paytm Share Price : डिजिटल फाइनेंशियल सर्विसेज फर्म पेटीएम (Paytm) के शेयरों में गिरावट जारी है। यह शेयर आज 5 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ 523.70 रुपये प्रति शेयर के भाव पर बंद हुआ है। कुछ दिनों पहले शेयर में बड़ी ब्लॉक डील की खबर के बाद भी लगभग 9 फीसदी की गिरावट आई थी। यह आईपीओ पिछले साल आया था और इसके लिए इश्यू प्राइस 2150 रुपये रखा गया था। जबकि आज के समय में यह स्टॉक 523.70 रुपये प्रति शेयर के भाव पर आ गया है। लिस्ट होने के बाद यह स्टॉक कभी भी अपने आईपीओ प्राइस को नहीं छू पाया। हालांकि, दिग्गज रेटिंग एजेंसी गोल्डमैन सैक्स इस स्टॉक को लेकर बुलिश हैं और इसके लिए अपने टारगेट प्राइस को बढ़ा दिया है।

ब्रोकरेज ने बढ़ाया टारगेट प्राइस

भले ही पेटीएम के शेयरों में लगातार गिरावट आ रही है लेकिन दिग्गज ब्रोकरेज फर्म गोल्डमैन सैक्स अभी भी इसे लेकर बुलिश है। ब्रोकरेज फर्म ने इसके लिए टारगेट प्राइस को 1100 रुपये से बढ़ाकर 1120 रुपये कर दिया है। ब्रोकरेज का मानना है कि मौजूदा लेवल इस स्टॉक में निवेश के लिए अच्छा समय है। ब्रोकरेज का कहना है कि पेटीएम भारत के सबसे बड़े और सबसे तेजी से बढ़ते फिनटेक प्लेटफार्मों में से एक है।

ब्रोकरेज की क्या है राय

ब्रोकरेज फर्म गोल्डमैन सैक्स ने कहा कि स्टॉक के ताजा एनालिसिस से पता चलता है कि मौजूदा लेवल स्टॉक में निवेश का अच्छा अवसर है। पेटीएम का वैल्यूएशन मल्टीपल ग्लोबल पीयर ग्रुप के लिए डिस्काउंट पर है। गोल्डमैन सैक्स को उम्मीद है कि मार्च तिमाही तक पेटीएम एबिटा लाभदायक होगा। दिसंबर तिमाही पेटीएम के लिए मजबूत तिमाही साबित हो सकता है। ब्रोकरेज के मुताबिक कंपनी के रेवेन्यू में 45 फीसदी की सालाना ग्रोथ और एडजस्टेड एबिटडा घाटे में सुधार देखने को मिल सकता है।

इश्यू प्राइस से 75 फीसदी टूट चुका है शेयर

Paytm का स्टॉक नवंबर 2022 को 2150 रुपये इश्यू प्राइस की तुलना में 1955 रुपये पर लिस्ट हुआ था। लिस्टिंग के दिन यह 27 फीसदी टूटकर 1564 रुपये पर बंद हुआ। आज यानी 17 जनवरी 2023 को शेयर 523 रुपये के भाव पर ट्रेड कर रहा है। यानी इश्यू प्राइस से इसमें 75 फीसदी गिरावट आ चुकी है। वहीं, लिस्टिंग प्राइस से तुलना करें तो इसमें 73 फीसदी की गिरावट आ चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *