Tata Group के इस कंजम्‍प्‍शन स्‍टॉक में आएगी बड़ी तेजी! खरीदने पर निवेशकों को 28% मिल सकता है रिटर्न, देखें ब्रोकरेज का टारगेट 


Tata group Stock: टाटा ग्रुप की कंज्‍यूमर सेक्‍टर की कंपनी टाटा कंज्‍यूमर प्रोडक्‍ट्स (Tata Consumer Products) के स्‍टॉक्‍स पर ब्रोकरेज फर्म मोतीलाल ओसवाल (Motilal Oswal) ने खरीदारी की सलाह दी है. 25 जनवरी के शुरुआती कारोबार में टाटा कंज्‍यूमर के शेयर में लाल निशान के साथ कारोबार शुरू हुआ है. पिछले 2-3 साल का रिटर्र देखें, तो शेयर में निवेशकों को दोगुना तक रिटर्न मिला है. ब्रोकरेज हाउस का कहना है, टाटा कंज्‍यूमर की पेप्सिको (PepsiCo) से नरिश्‍को (NourishCo) ज्‍वाइंट वेंचर से बची हिस्‍सेदारी खरीदने की स्‍ट्रैटजी उसके लिए फायदेमंद साबित हुई है.

Tata Consumer: 940 रुपये का टारगेट

मोतीलाल ओसवाल ने टाटा कंज्‍यूमर प्रोडक्‍ट्स पर खरीदारी (BUY on Tata Consumer Products) की राय बरकरार रखी है. साथ ही प्रति शेयर टारगेट प्राइस 940 रुपये रखा है. 24 जनवरी 2023 को स्‍टॉक का भाव 740.90 रुपये पर बंद हुआ था. इस तरह मौजूदा भाव से निवेशकों को आगे करीब 28 फीसदी का दमदार रिटर्न देखने को मिल सकता है.

टाटा कंज्‍यूमर निवेशकों के लिए बीते 3 साल में मल्‍टीबैगर साबित हुआ है. 24 जनवरी 2020 को स्‍टॉक का भाव 384.60 पर था. इस तरह देखें, तो निवेशकों को 144 फीसदी का तगड़ा रिटर्न मिला है. बीते एक साल में शेयर लगभग सपाट (+3.5%) रहा है.

Tata Consumer: क्‍या है ब्रोकरेज की राय

मोतलाल ओसवाल का कहना है कि पोप्सिको से नरिश्‍को की बाकी हिस्‍सेदारी खरीदने की स्‍ट्रैटजी टाटा कंज्‍यूमर के लिए फायदेमंद है. इससे कंपनी को अपने मौजूदा पोर्टफोलियो को विस्‍तार करने के साथ-साथ डिस्ट्रिब्‍यूशन कवरेज में मदद मिली है. इसके अलावा कंपनी ने नॉन-कॉर्बोनेटेड (NCD) और रेडी टू ड्रिंक (RTD) बेवरेज सेगमेंट में नए-नए प्रोडक्‍ट लॉन्‍च करने में मदद मिली है. ब्रोकरेज फर्म ने FY22-25 के दौरान sales/EBITDA/PAT 9%/14%/23% की सीएजीआर का अनुमान लगाया है. 

 

टाटा कंज्‍यूमर ने पेप्सिको के साथ साल 2010 में 50-50% नरिश्‍को ज्‍वाइंट वेंचर के जरिए नॉन-कार्बोनेटेड ड्रिंक मार्केट में कदम रखा था. नरिश्‍को लॉन्‍च होने के बाद FY12-20 (ज्‍वाइंट वेंचर की अवधि) के दौरान कंपनी ने 32 फीसदी CAGR की मजबूत रेवेन्‍यू ग्रोथ रही. मई 2020 में टाटा कंज्‍यूमर ने मल्‍टी कैटेगरी FMCG प्‍लेयर बनने के लिए पेप्सिको से नरिश्‍को की 50 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीद ली. इस अधिग्रहण के बाद वित्‍त वर्ष 2021 में कोविड के असर के बावजूद कंपनी की 38 फीसदी सीएजीआर रही. टाटा कंज्‍यूमर और नरिश्‍को के बीच मजबूत तालमेल बनने से रेवेन्‍यू ग्रोथ में तगड़ा उछाल देखने को मिला. 

 

(डिस्‍क्‍लेमर: यहां स्‍टॉक्‍स में निवेश की सलाह ब्रोकरेज द्वारा दी गई है. ये जी बिजनेस के विचार नहीं हैं. निवेश से पहले अपने एडवाइजर से परामर्श कर लें.) 

Zee Business Hindi Live TV यहां देखें



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *